Saturday, June 27, 2020

69 हजार शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा को लेकर लगाया विवादित पोस्टर , पुलिस ने अज्ञात लोगो के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा , गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने तेज किए प्रयास , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

69 हजार शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा को लेकर लगाया विवादित पोस्टर , पुलिस ने अज्ञात लोगो के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा , गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने तेज किए प्रयास , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 





प्रदेश के परिषदीय स्कूलों में 69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़े को लेकर नया विवाद सामने आ गया है। गुरुवार रात कुछ लोगों ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय और उसके आसपास के इलाके में विवादित पोस्टर चस्पा कर दिया। शुक्रवार सुबह पोस्टर पर छात्रों और दूसरे लोगों की नजर पड़ी तो खलबली मच गई। मौके पर पहुंची कर्नलगंज पुलिस ने पहले दीवार पर चस्पा पोस्टर हटवाए, इसके बाद अज्ञात के खिलाफ मुकदमा कायम कर जांच शुरू की।

विवादित पोस्टर में शरारतीतत्वों ने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री व कई मंत्रियों के साथ ही शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा के मोस्टवांटेड चंद्रमा यादव की भी तस्वीर लगाई है। इसके अलावा पशुपालन विभाग घोटाले में शामिल अनिल राय की तस्वीर के साथ पोस्टर में आपत्तिजनक संदेश छापा गया है। चंद्रमा खुद को भाजपा नेता भी बताता था। फिलहाल इंस्पेक्टर कर्नलगंज अरुण त्यागी का कहना है कि पोस्टर को चस्पा करने में कतिपय छात्रनेताओं का भी हाथ हो सकता है। आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है। पोस्टर में मुद्रक व प्रकाशक का नाम शामिल नहीं है। ऐसे में उसे चस्पा करने वालों की गिरफ्तारी के बाद ही ज्यादा जानकारी हो सकेगी। सहायक शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़े का पर्दाफाश करते हुए सोरांव पुलिस गिरोह के सरगना डॉ. केएल पटेल, दो अभ्यर्थी समेत 12 लोगों को जेल भेज चुकी है। अब इस मामले में विवेचना स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) कर रही है। मामले में स्कूल प्रबंधक चंद्रमा यादव, भदोही का मायापति दुबे और प्रतापगढ़ का दुर्गेश पटेल व संदीप पटेल फरार हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।