Sunday, June 28, 2020

यूपी बोर्ड परीक्षा परिणाम 2020 :: उप्र में हिंदी में फिर फेल हो गए आठ लाख छात्र , उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल में पांच लाख 27 हजार 866 और इंटर में दो लाख 69 हजार 960 परीक्षार्थी फेल , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

यूपी बोर्ड परीक्षा परिणाम 2020 :: उप्र में हिंदी में फिर फेल हो गए आठ लाख छात्र , उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल में पांच लाख 27 हजार 866 और इंटर में दो लाख 69 हजार 960 परीक्षार्थी फेल , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 






प्यारी हिंदी, हमारी हिंदी का नारा विशेष दिवस पर खूब गूंजता है। मातृभाषा के प्रति विशेष लगाव शायद नारों तक ही सिमट कर रह गया है। हिंदी को हम सब वैसा प्यार नहीं करते जिसकी उसे दरकार है। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर का परीक्षा परिणाम इसकी पुष्टि कर रहा है। दोनों परीक्षाओं के करीब आठ लाख परीक्षार्थी सिर्फ इसलिए फेल हो गए हैं, क्योंकि वे हिंदी विषय की परीक्षा उत्तीर्ण नहीं कर सके हैं। बोर्ड की ओर से जारी हिंदी विषय का यह आंकड़ा शर्मसार करने वाला है, क्योंकि उत्तर प्रदेश हिंदी पट्टी का अहम व देश में आबादी के हिसाब से सबसे बड़ा राज्य है।यूपी बोर्ड ने हाईस्कूल व इंटर का विषयवार परिणाम जारी किया है। इंटर की हिंदी परीक्षा में 1,08,207 व सामान्य हिंदी में 1,61,753 सहित कुल 2,69,960 परीक्षार्थी अनिवार्य प्रश्नपत्र में उत्तीर्ण होने लायक अंक नहीं ला पाए। ऐसे ही हाईस्कूल की हिंदी परीक्षा में 5,27,680 व प्रारंभिक हिंदी में 186 सहित कुल 5,27,866 परीक्षार्थी फेल हुए हैं। दोनों परीक्षाओं में कुल 7,97,826 परीक्षार्थी अनुत्तीर्ण हैं। ये वे परीक्षार्थी हैं, जो हिम्मत जुटाकर परीक्षा में शामिल हुए थे। हैरत यह भी है कि पिछले वर्ष की अपेक्षा इस बार हाईस्कूल में फेल होने वालों की संख्या बढ़ी है, जबकि इंटर के हिंदी विषय में फेल होने वालों का आंकड़ा तेजी से घटा है। वैसे भी इंटर के परीक्षाíथयों को हाईस्कूल की अपेक्षा अधिक परिपक्व माना जाता है। ज्ञात हो कि मातृभाषा में अनुत्तीर्ण होने वालों का इतना खराब परिणाम पहली बार नहीं आया है, बल्कि पिछले साल तो फेल होने वालों की तादाद दस लाख को पार गई थी।

हाईस्कूल में बागपत की रिया और इंटर में अनुराग टॉपर

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 का परिणाम शनिवार को घोषित हुआ। हाईस्कूल व इंटर दोनों में इस बार बागपत के श्रीराम एसएम इंटर कॉलेज का डंका बजा। दोनों टॉपर एक ही स्कूल के हैं। हाईस्कूल में रिया जैन ने 96.67 प्रतिशत और इंटर में अनुराग मलिक ने 97 फीसद अंक पाकर मेरिट लिस्ट में पहला स्थान हासिल किया। इस बार हाईस्कूल व इंटर दोनों का रिजल्ट पिछले साल की तुलना में अच्छा रहा। हाईस्कूल में 83.31 और इंटर में 74.63 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए। वहीं इस बार भी पास होने के मामले में लड़कियों ने लड़कों को पछाड़ा और उनका रिजल्ट बेहतर रहा। इंटर में इस वर्ष 4.57 प्रतिशत और हाईस्कूल में 3.24 फीसद ज्यादा पास विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए हैं। हाईस्कूल व इंटर दोनों में टॉप टेन की मेरिट सूची में लड़के ज्यादा हैं। मेधावियों को एक-एक लाख रुपये व लैपटाप देगी सरकार : यूपी बोर्ड के हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के टापरों को राज्य सरकार की ओर से एक-एक लाख रुपये और लैपटाप दिया जाएगा। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि जिला स्तर के टॉप टेन परीक्षार्थियों को भी 21-21 हजार रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।