Sunday, June 21, 2020

वीकली टॉप-10 करेंट अफेयर्स इवेंट्स : 15 जून - 20 जून 2020 , क्लिक करे और पढ़े

वीकली टॉप-10 करेंट अफेयर्स इवेंट्स : 15 जून -  20 जून 2020 , क्लिक करे  और पढ़े 





1.RBI के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल को एनआईपीएफपी का चेयरमैन नियुक्त
एनआईपीएफपी ने बयान में कहा कि हमें इस बात की खुशी है कि आरबीआई के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल 22 जून 2020 से चार साल के लिए संस्थान के चेयरपर्सन के रूप में हमसे जुड़ रहे हैं. एनआईपीएफपी ने विजय केलकर के योगदान हेतु उनका आभार जताया है.

उर्जित पटेल ने 10 दिसंबर 2018 को आरबीआई गवर्नर के कार्यकाल पूरा होने से पहले ही इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने अपना इस्तीफा केंद्रीय बैंक के बोर्ड की महत्वपूर्ण बैठक से पहले दिया था. उर्जित पटेल वर्ष 1990 के बाद रिजर्व बैंक के ऐसे पहले गवर्नर रहे हैं जिन्होंने अपना कार्यकाल पूरा होने से पहले केंद्रीय बैंक से विदाई ली.

2.भारत अगस्त 2021 में बनेगा UNSC का अध्यक्ष, जानें विस्तार से
संयुक्त राष्ट्र प्रवक्ता के कार्यालय से जारी सूचना के मुताबिक भारत अगस्त 2021 में परिषद की अध्यक्षता करेगा. इसके बाद भारत 2022 में एक माह के लिए परिषद का अध्यक्ष बनेगा. सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य के तौर पर भारत का दो वर्ष का कार्यकाल एक जनवरी 2021 से शुरू होगा.

भारत सुरक्षा परिषद के चुनाव में मिले जबरदस्त समर्थन की मदद से दो साल के लिए इसका अस्थायी सदस्य चुना गया है. इस अभूतपूर्व चुनाव में 192 सदस्य देशों के राजनयिकों ने कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के मद्देनजर सामाजिक दूरी के नियमों का कड़ाई से पालन करते हुए और मास्क पहनकर मतदान किया.

3.भारत करेगा एएफसी महिला एशिया कप 2022 की मेजबानी, जानें विस्तार से
अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (AIFF) को लिखे पत्र में एएफसी के महासचिव दाटो विंडसर जॉन ने लिखा कि समिति ने एएफसी महिला एशिया कप 2022 फाइनल्स की मेजबानी के अधिकार अखिल भारतीय फुटबॉल को सौंपे हैं. इससे पहले साल 1979 में मेजबान मिली थी, तब भारतीय टीम रनरअप रही थी.

एआईएफएफ के लिए ये मेजबानी मनोबल बढ़ाने वाली है क्योंकि उसे फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप की मेजबानी भी सौंपी गयी थी जिसका आयोजन अगले साल होगा. भारत ने साल 2016 में एएफसी अंडर-16 चैम्पियनशिप और साल 2017 में फीफा अंडर-17 विश्व कप की मेजबानी की थी.

4.भारत-नेपाल सीमा विवाद: नेपाल की राष्ट्रपति ने नए नक्शे को अपनी मंजूरी दी
भारत के कड़े विरोध के बावजूद इस नए नक्शे में नेपाल ने तीन भारतीय इलाकों लिपुलेख, कालापानी और लिंपियाधुरा को अपने क्षेत्र के रूप में दर्शाया है. नेपाल के इस कदम से दोनों देशों के सौहार्दपूर्ण संबंधों को बहुत बड़ा झटका लगा है. नेपाल के राष्ट्रपति भवन की तरफ से जारी बयान के मुताबिक राष्ट्रपति भंडारी ने बिल पर संवैधानिक प्रावधानों के तहत हस्ताक्षर किए हैं.

नेपाल ने अपने नए नक्शे में भारतीय क्षेत्र के रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण सीमावर्ती तीन स्थानों लिपुलेख, कालापानी और लिंपियाधुरा को अपने क्षेत्र के रूप में दर्शाया है. इस नक्शे को राष्ट्रीय मान्यता देने के लिए संविधान संशोधन बिल को नेपाली संसद के उच्च सदन ने 18 जून 2020 को इसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया.

5.प्रधानमंत्री मोदी ने लॉन्च की 41 कोयला ब्लॉक नीलामी, कहा सब मिलकर आपदा को अवसर में बदलेंगे
केंद्र सरकार के इस कदम से देश का कोयला क्षेत्र निजी कंपनियों के लिए खुल जाएगा. प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में खनन क्षेत्र में आत्म-निर्भरता हासिल करने के अपने दृष्टिकोण को रखा. साथ ही उन्होंने कहा कि 130 करोड़ भारतवासियों का संकल्प है कि हमें आत्मनिर्भर भारत बनाना ही है.

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि भारत कोरोना से लड़ेगा भी और आगे भी बढ़ेगा. इसके साथ ही भारत इस बड़ी आपदा को अवसर में बदलेगा. उन्होंने कहा कि कोरोना के इस संकट ने भारत को आत्मनिर्भर भारत होने का सबक दिया है. आत्मनिर्भर भारत यानि भारत आयात पर अपनी निर्भरता कम करेगा.

6.UP सरकार का बड़ा फैसला, शहीदों के परिवारों को अब मिलेगी 50 लाख की आर्थिक सहायता
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में यह फैसला किया गया. सेना और अर्धसैनिक बलों के शहीद की पत्नी एवं आश्रितों को राज्य सरकार की ओर से अब 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. इस फैसले का पूरी कैबिनेट ने स्वागत किया.

योगी सरकार ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मूल निवासी जिनका परिवार यूपी में रह रहा होगा ऐसे शहीदों के परिवारों को अब 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. उन्होंने बताया कि पहले यह आर्थिक सहायता 25 लाख रुपये की थी, जो उनके लिए बहुत कम थी.

7.IMD की प्रतिस्पर्धा रैंकिंग में भारत 43वें स्थान पर, जानें पहले स्थान पर कौन
आईएमडी की रिपोर्ट के अनुसार प्रतिस्पर्धात्मक शक्ति के मामले में भारत की कुछ परंपरागत कमजोरियां मसलन कमजोर बुनियादी ढांचा और शिक्षा में अपर्याप्त निवेश अभी कायम हैं. आईएमडी की रिपोर्ट के मुताबिक प्रतिस्पर्धात्मक शक्ति के मामले में भारत की कुछ परंपरागत कमजोरियां मसलन कमजोर बुनियादी ढांचा और शिक्षा में अपर्याप्त निवेश अभी कायम हैं.

यह रैंकिंग स्विट्जरलैंड और सिंगापुर के बिजनेस स्कूल द्वारा 1989 से हर साल दी जा रही है. भारत इसमें लगातार 41वें स्थान पर रहा है. लेकिन भारत 2017 में प्रतिस्पर्धा रैंकिंग में फिसलकर 45वें स्थान पर पहुंच गया था. भारत साल 2018 में 44वें और साल 2019 में 43वें स्थान पर आ गया. आईएमडी के अनुसार, 2020 में भी भारत 43वें स्थान पर ही रहा है.

8.ब्रिटिश अकादमी फिल्म पुरस्कार दो महीने के लिए स्थगित, जानें वजह
कोरोनावायरस के कारण एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज ने घोषणा की कि 93वें अकादमी पुरस्कार 25 अप्रैल 2021 तक स्थगित कर दिए दिए गए हैं. इसकी प्रारंभिक तिथि 28 फरवरी 2021 थी. यह आयोजन हॉलीवुड के डॉल्बी थिएटर में होगा.

यह चौथी बार है जब ऑस्कर स्थगित किया गया है. पहली बार इसे साल 1938 में लॉस एंजिल्स में बाढ़ के बाद स्थगित किया गया था. इसके बाद फिर साल 1968 में, डॉ मार्टिन लूथर किंग, जूनियर और साल 1981 में राष्ट्रपति रीगन की हत्या के प्रयास के बाद इसे स्थगित किया गया था.

9.ICMR ने जांच के लिये त्वरित एंटीजन किट्स के इस्तेमाल की अनुशंसा की
आईसीएमआर ने कहा कि रैपिड एंटीजन जांच द्वारा जिन संदिग्ध व्यक्तियों में कोविड-19 नहीं पाया जाता उनमें बाद में इसकी संभावना को पूरी तरह खत्म करने के लिए आरटी-पीसीआर जांच कराई जानी चाहिए, जबकि जिन लोगों मेंएंटीजन जांच में संक्रमण की बात आ जाती है उन्हें वास्तविक संक्रमित माना जाना चाहिए और उनमें पुन:पुष्टि के लिये आरटी-पीसीआर जांच कराए जाने की जरूरत नहीं है.

आईसीएमआर का दावा है कि इसके जरिए सिर्फ आधे घंटे में किसी भी टेस्ट का परिणाम पता किया जा सकता है. अभी तक देश में मुख्य तौर पर RT-PCR तकनीक के जरिए ही कोरोना वायरस का सैंपल मापा जाता है. इसके जरिए कुल 3 से 4 घंटे की प्रक्रिया के बाद रिजल्ट आता है, हालांकि ट्रांसपोर्ट के लिए अलग से समय लगता है.

10.बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने की खुदकुशी
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सुशांत सिंह काफी लंबे समय से डिप्रेशन से गुजर रहे थे. हालांकि आधिकारिक तौर पर अभी कुछ नहीं गया है. उनकी अंतिम फिल्म केदारनाथ थी जिसमें उनके अभियन की काफी तारीफ हुई थी. सुशांत सिंह ने आखिरी पोस्ट इंस्टाग्राम में 3 जून 2020 को मां की फोटो पोस्ट की थी.

सुशांत सिंह इसके अतिरिक्त फिल्म सोनचिड़िया और छिछोरे जैसी फिल्मों में नजर आ चुके थे. उनकी अंतिम फिल्म केदारनाथ थी जिसमें वे सारा अली खान के साथ दिखे थे. सुशांत की अपकमिंग फिल्म किजी और मैनी थी. कुछ समय पहले इस फिल्म का फर्स्ट लुक भी रिलीज हुआ था.