Friday, May 1, 2020

UPTET 2019 परीक्षा में धांधली के आरोपित की जमानत अर्जी खारिज ,क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

UPTET 2019 परीक्षा में धांधली के आरोपित की जमानत अर्जी खारिज ,क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 


उत्तर प्रदेश में टीईटी-2019 की परीक्षा में नकल व धांधली कराने के आरोप में गिरफ्तार आरोपित की जमानत अर्जी जिला न्यायालय ने खारिज कर दी। जमानत अर्जी पर सुनवाई विशेष आदेश में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शुक्रवार को हुई।

 

यह आदेश अपर सेशन जज बद्री विशाल पांडे ने आरोपित उमेश सिंह उर्फ संजय सिंह की कई माह से विचाराधीन जमानत अर्जी पर उनके अधिवक्ता एवं सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी  सुशील कुमार वैश्य को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुनने के बाद दिया। अदालत ने कहा कि मामले की परिस्थितियों, अपराध की गंभीरता, पुलिस द्वारा बताई गई बरामदगी को देखते हुए जमानत अर्जी स्वीकार किए जाने का कोई उचित कारण नहीं है, इसलिए आरोपी की जमानत अर्जी निरस्त किए जाने योग्य है।

 

जमानत अर्जी का विरोध करते हुए सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता सुशील कुमार वैश्य ने तर्क दिया कि इस मामले में गिरफ्तार अन्य आरोपियों की जमानत अर्जी पूर्व में ही इस न्यायालय द्वारा खारिज की जा चुकी है। इस आरोपित के कब्जे से गिरफ्तारी के वक्त एक लाख रुपए तथा 40 मोबाइल फोन बरामद हुए हैं। यह लोग टीईटी की परीक्षा में धांधली व नकल कराने में जुटे थे जो कि समाज के विरुद्ध एक गंभीर अपराध है। आरोपित की ओर से तर्क दिया गया था कि वह निर्दोष है। पुलिस द्वारा झूठा फंसाया गया है। आठ जनवरी से वह लगातार जेल में बंद है।

 

गौरतलब है कि एसटीएफ प्रभारी केशव चंद्र राय ने टीईटी 2019 की परीक्षा में नकल व धांधली कराने के आरोपितों को सिविल लाइंस पत्थर गिरजा के समीप गिरफ्तार किया था। इनमें संजय सिंह उर्फ उमेश सिंह सहित सात लोग गिरफ्तार हुए थे। संजय सिंह के कब्जे से एक लाख रुपये, 40 मोबाइल फोन व अन्य के कब्जे से भी फोन और रुपए बरामद हुए थे।