Tuesday, March 17, 2020

बड़ी खबर ::; उत्तर प्रदेश में स्कूल-कालेज अब दो अप्रैल तक बंद,सभी प्रतियोगी परीक्षाएं स्थगित , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

बड़ी खबर ::;  उत्तर प्रदेश में स्कूल-कालेज अब दो अप्रैल तक बंद,सभी  प्रतियोगी परीक्षाएं स्थगित , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




 चीन से विश्व भर में फैला कोरोना वायरस का कहर अब बढ़ता जा रहा है। इससे बचाव को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार काफी सतर्क है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने कैबिनेट की बैठक के बाद प्रदेश में सभी स्कूल व कॉलेज को दो अप्रैल तक बंद करने की घोषणा की है। पहले सरकार ने सभी स्कूल-कालेज को 22 मार्च तक बंद करने का आदेश जारी किया था। स्कूल व कॉलेज को दो अप्रैल तक बंद करने के साथ ही सरकार ने अगले आदेश तक सभी परीक्षाओं को भी स्थगित कर दिया है। यूपी रेरा ने भी कोरोना वायरस के मद्देनजर 31 मार्च तक सुनवाई स्थगित की।


लोकभवन में कैबिनेट की बैठक के साथ सभी स्कूल-कॉलेज दो अप्रैल तक बंद करने के साथ ही परीक्षाओं को अगले आदेश तक स्थगित करने का भी निर्णय लिया है। सीबीएससी तथा आईसीएससी बोर्ड की बची परीक्षाएं भी स्थगित की गई हैं। इनके साथ प्रतियोगी परीक्षाएं भी स्थगित की गई हैं। इसके साथ ही फैसला लिया गया है कि निजी क्षेत्र के लोग घर से काम करें। कोरोना वायरस से संक्रमित सभी लोगों का मुफ्त इलाज होगा। इसके साथ ही सभी धरना तथा प्रदर्शन पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। 

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं को भी रद करने के साथ ही प्रदेश के धार्मिक स्थलों को भी बंद किया गया है। सरकार ने सभी धर्म गुरुओं से इसमें सहयोग की अपील भी की है। मंदिर, गुरुद्वारा तथा मस्जिद को भी बंद रखा जाएगा। सरकार ने धार्मिक गुरूओं से अपील की है कि मंदिर,मस्जिद व गुरुद्वारे में भीड़ ना हो। इस अभियान में सभी लोग साथ दें। प्रदेश में दो अप्रैल तक सभी सिनेमा हॉल, मॉल तथा जिम को बंद रखा जाएगा। प्रदेश के सभी पर्यटक स्थल 31 मार्च तक बंद रहेंगे। इनके साथ ही तहसील दिवस व जनता दर्शन भी बंद होगा। 


प्रदेश में दूसरे स्तर पर कोरोना वायरस का असर है। सरकार ने कहा कि हम गरीबों की रोजी व रोटी सुनिश्चित करेंगे। उनके खाते में पैसे देंगे। सरकार ने कोरोना वायरस के कहर से राहत व बचाव का अपना अभियान तेज किया है। सरकार की तरफ से दलितों व गरीबों की मदद के लिए कमेटी बनी है। इसमें वित्त मंत्री,कृषि मंत्री व श्रम मंत्री हैं। अब रोज कमाने खाने वालों को दिक्कत नहीं होगी। तीन दिन में कमेटी अपनी रिपोर्ट पेश करेगी। कुछ धनराशि खाते में आरटीजीएस करेंगे। सरकार ने कहा है कि कोरोना वायरस पीडि़त सरकारी कर्मचारी को सैलरी देंगे।