Friday, February 14, 2020

मेरठ ::: जिले से जाने वाले शिक्षकों की संख्या कम, आने वाले ज्यादा , मेरठ में तैनाती पाने की डगर काफी कठिन , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

मेरठ ::: जिले से जाने वाले शिक्षकों की संख्या कम, आने वाले ज्यादा , मेरठ में तैनाती पाने की डगर काफी कठिन , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 





अंतरजनपदीय तबादले की प्रक्रिया में सत्यापन के बाद जिले से जाने वालों की संख्या कम है, जबकि मेरठ में आने वालों की कतार लंबी बताई जा रही है। इससे जिले में तैनाती पाने की डगर मुश्किल हो गई है।

बेसिक शिक्षा परिषद के क्षेत्रीय कार्यालय के मुताबिक, मेरठ से दूसरे जनपद में जाने के लिए परिषदीय विद्यालयों के कुल 124 शिक्षक-शिक्षिकाओं ने आवेदन किया था। बुधवार को सत्यापन की अवधि खत्म होने पर कुल 57 आवेदन स्वीकृत करके सूची मुख्यालय को भेजी गई है। इनमें अधिकतर ने गाजियाबाद में तैनाती की चाह रखने वाले हैं। इसके अलावा दूसरे जिलों से मेरठ में आने वाले शिक्षक-शिक्षिकाओं की संख्या एक हजार से अधिक बताई जा रही है। इसमें कानपुर, झांसी, बरेली, मेनपुरी के अलावा शामली, बागपत, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर के शिक्षक भी शामिल हैं, जबकि जनपद में कुल 100 ही खाली पद बताए जा रहे हैं। साफ है कि सहमति से ट्रांसफर लेने वालों की ही तमन्ना पूरी हो सकती है, जबकि इसके अलावा तमाम पात्रता रखने वालों को भी झटका लग सकता है। तबादला नहीं होने के अंदेशे से आवेदक बीएसए दफ्तर से मुख्यालय तक चक्कर काट रहे हैं।


Click Here & Download Govt Jobs UP Official Android App



Click Here to join Govt Jobs UP Telegram Channel