Saturday, October 12, 2019

प्रदेश में राजकीय स्कूलों को मिले कला के 468 शिक्षक , विवादों के बीच आयोग ने जारी किया एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती का रिजल्ट , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

प्रदेश में राजकीय स्कूलों को मिले कला के 468  शिक्षक , विवादों के बीच आयोग ने जारी किया एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती का रिजल्ट , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 





तमाम विवादों के बीच उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने शुक्रवार को एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती के तहत कला विषय में 468 पदों का अंतिम चयन परिणाम जारी कर दिया। हालांकि, परीक्षा तो 470 पदों पर भर्ती के लिए कराई गई थी, लेकिन हाईकोर्ट के आदेश के मद्देनजर दो पदों का रिजल्ट रोकते हुए उन्हें रिक्त रखा गया है। परिणाम आयोग की वेबसाइट पर भी उपलब्ध है। रिजल्ट जारी होने से अभ्यर्थियों को बड़ी राहत मिली है। पेपर लीक का मामला सामने आने के बाद से सत्यापन और रिजल्ट जारी किए जाने की प्रक्रिया फंसी हुई थी।
अभ्यर्थियों ने बुधवार को आयोग में धरना-प्रदर्शन किया और अध्यक्ष डॉ. प्रभात कुमार से मुलाकात की। अध्यक्ष ने आश्वस्त किया कि दीपावली से पहले सत्यापन का कार्यक्रम और रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा। मुलाकात के अगले ही दिन बृहस्पतिवार को आयोग ने सत्यापन कार्यक्रम जारी कर दिया और शुक्रवार को कला विषय का रिजल्ट भी आ गया। एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती के लिए परीक्षा पिछले साल 29 जुलाई को आयोजित की गई थी।
कला विषय में पुरुष शाखा के 192 पदों पर भर्ती के लिए कुल 4845 अभ्यर्थी और महिला शाखा के 278 पदों भर्ती के लिए 5520 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। आयोग ने शुक्रवार को पुरुष शाखा के 192 पदों के सापेक्ष 190 पदों और महिला शाखा के सभी 278 पदों पर भर्ती के लिए अंतिम चयन परिणाम जारी कर दिया। आयोग के सचिव जगदीश के अनुसार परीक्षा परिणाम से संबंधित प्राप्तांक एवं श्रेणीवार/पदवार कटऑफ अंक आयोग की वेबसाइट पर जल्द ही प्रदर्शित किए जाएंगे। अभ्यर्थियों का चयन औपबंधिक रूप से किया गया है। उनके अभिलेखों के सत्यापन के लिए जल्द ही तिथि निर्धारित की जाएगी। सत्यापन न कराने पर अभ्यर्थन निरस्त होगा।
कोर्ट के अंतिम निर्णय के अधीन रहेगा परिणाम
कल विषय में एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती को लेकर कई याचिकाएं उच्च न्यायालय में दाखिल हैं। इनमें अनिवार्य अर्हता से संबंधित याचिका भी हाईकोर्ट में दाखिल है। आयोग के सचिव जगदीश के अनुसार परीक्षा परिणाम अलग-अलग याचिकाओं पर पारित होने वाले अंतिम निर्णय के अधीन रहेगा।


Click Here & Download Govt Jobs UP Official Android App



Click Here to join Govt Jobs UP Telegram Channel