Thursday, September 12, 2019

प्रयागराज में प्रेरणा ऐप के भारी विरोध के बीच प्रेरणा एप से हो रही 39%हाजिरी , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

प्रयागराज में प्रेरणा ऐप के भारी विरोध के बीच प्रेरणा एप से हो रही 39%हाजिरी , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 





प्रेरणा एप के जबर्दस्त विरोध के बीच जिले के 39 फीसदी शिक्षक ही सेल्फी के जरिए हाजिरी लगा रहे हैं। शुरुआती तीन दिनों के रुझान में शिक्षकों ने इस व्यवस्था को नकार दिया है। बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुमार कुशवाहा का दावा है कि तीसरे दिन 7 सितंबर को जिले के 13434 में से तकरीबन 5300 शिक्षकों (39 प्रतिशत) ने हाजिरी लगाई थी। पहले दिन 5 सितंबर को 2400 और दूसरे दिन 6 सितंबर को 3800 शिक्षकों ने एप से उपस्थिति दी थी।

हालांकि उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष देवेन्द्र कुमार श्रीवास्तव बीएसए के दावे को खारिज कर रहे हैं। उनका दावा है कि बमुश्किल 10 से 15 प्रतिशत शिक्षकों ने प्रेरणा एप डाउनलोड किया है। ये शिक्षक भी अभी सेल्फी से हाजिरी नहीं लगा रहे हैं। शिक्षकों के प्रेरणा एप से हाजिरी लगाने की व्यवस्था नहीं मानने के कई कारण भी है। एक तो विभाग ने वादे के मुताबिक अभी तक शिक्षकों को टैबलेट उपलब्ध नहीं कराया है और शिक्षक अपने स्मार्टफोन का इस्तेमाल अब सरकारी काम में नहीं लाना चाहते।

दूसरे परिषदीय प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूलों में नियमित प्रधानाध्यापक नहीं है। अधिकांश स्कूलों में सहायक अध्यापक ही प्रभारी प्रधानाध्यापक के रूप में काम कर रहे हैं। वे सहायक अध्यापक के वेतन पर प्रधानाध्यापक की सेल्फी भेजने की जिम्मेदारी नहीं निभाना चाहते।


Click Here & Download Govt Jobs UP Official Android App


Click Here to join Govt Jobs UP Telegram Channel