Monday, August 12, 2019

रेलवे में फर्जी नौकरी का भंडाफोड़, 12 गिरफ्तार , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

रेलवे में फर्जी नौकरी का भंडाफोड़, 12 गिरफ्तार , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 





बिहार के कैमूर पुलिस ने रविवार को रेलवे में फर्जी नौकरी दिलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है। रेलवे मालगोदाम श्रमिक के नाम पर यूपी व बिहार के सैकड़ों बेरोजगार युवकों से करोड़ों रुपये वसूल कर उन्हें झांसा दिया जा रहा था। रविवार को दुर्गावती मॉडल स्कूल के प्रागंण में उनका मेडिकल चेकअप कैंप आयोजित था। जहां से पुलिस ने फर्जी मुहर, मेडिकल किट, फर्जी आईकार्ड, आवेदन प्रपत्र व दो लग्जरी वाहन के साथ एक महिला समेत 12 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। .

एसपी दिलनवाज अहमद ने स्थानीय थाने में एक प्रेसवार्ता आयोजित कर बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली कि दुर्गावती के एक स्कूल के प्रागंण में एक फर्जी मेडिकल चेकअप कैंप चल रहा है। जहां यूपी के गोरखपुर व बिहार के मधुबनी जिले से सैकड़ों अभ्यर्थी आए हुए हैं। .

रेलवे में स्थाई नौकरी दिलाने के नाम पर अभ्यर्थियों का मेडिकल चेकअप किया जा रहा है। एसपी ने वहां सादे लिबास में पुलिस कर्मियों को भेजा, जो वहां जाकर कैंप का वीडियो रिकॉडिंग कर लिए। फिर डीएसपी को भेजकर गिरोह के सभी सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार सदस्यों को मोहनियां थाना में लाया गया। उनसे पूछताछ के दौरान सैकड़ों अभ्यर्थी पहुंचे व अपनी आपबीती सुनाते हुए एसपी से न्याय की गुहार लगाई। .


1. लाख रुपये प्रति कैंडिडेट के लिए तय हुआ था मामला

2. 1.50

3. लाख अग्रिम राशि ले लिए थे गिरोह के सदस्य

4. मालगोदाम श्रमिक के लिए छह लााख में हुई बात अभ्यर्थियों ने बताया कि रेलवे मालगोदाम श्रमिक में नौकरी के नाम पर उनसे छह लाख रुपये में बात हुई थी। डेढ़ लाख रुपये अग्रिम ले लिये गए हैं। उन्हें संविदा पर बताकर आईकार्ड व बतौर वेतन छह हजार रुपये मासिक दिए जा रहे थे। मेडिकल चेकअप के बाद उनकी नौकरी स्थाई होने की बात बतायी जा रही थी। स्थाई होने पर वेतन की राशि तीस हजार हो जाने की बात कही गयी थी।



Click Here & Download Govt Jobs UP Official Android App


Click Here to join Govt Jobs UP Telegram Channel


Click Here To Join Our Official WhatsApp Group