Friday, July 26, 2019

रेलवे ग्रुप डी भर्ती में चयनित अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर , चयनितों को अगले हफ्ते तक नियुक्ति पत्र , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

रेलवे ग्रुप डी भर्ती में चयनित अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर , चयनितों को अगले हफ्ते तक नियुक्ति पत्र , क्लिक करे और पढ़े पूरी  पोस्ट 






 रेलवे में ग्रुप डी पद के लिए हाल ही में चयनित हुए 3254 अभ्यर्थियों को अगले हफ्ते तक नियुक्ति पत्र मिल जाएगा। रेलवे भर्ती प्रकोष्ठ (आरआरसी) इलाहाबाद ने चयन की प्रक्रिया पूरी करके चयनित अभ्यर्थियों की सूची तीनों मंडलों में भेज दी गई है। इन पदों पर भर्ती होने के बाद रेलवे में कर्मचारियों की कमी कुछ हद तक पूरी हो जाएगी।
रेलवे में ग्रुप डी कटेगरी के ट्रैक मैन, खलासी, हेल्पर आदि के हजारों पद खाली हैं। पिछले साल रेलवे भर्ती बोर्ड इलाहाबाद ने 4762 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञप्ति जारी की। इसके लिए आनलाइन परीक्षा 2018 में सितंबर से नवंबर तक कराई गई। इस परीक्षा में 14288 अभ्यर्थी चुने गए। आरआरबी ने रिजल्ट जारी करने के बाद आगे की प्रक्रिया के लिए इसे आरआरसी को भेज दिया। आरआरसी ने 2019 में 26 मार्च से आठ अप्रैल तक फिजिकल टेस्ट कराया। फिजिकल टेस्ट में आठ हजार अभ्यर्थी पास हुए। फिर इनकी मेरिट बनी और डाक्यूमेंट वेरीफिकेशन के लिए 4950 अभ्यर्थियों को बुलाया गया। यह प्रक्रिया 26 अप्रैल से 18 जून 2019 तक चली। डाक्यूमेंट वेरीफिकेशन में विशेष सतर्कता बरती गई। चूंकि कइयों के डाक्यूमेंट गड़बड़ थे और कुछ के अंगूठे के निशान मैच नहीं कर रहे थे।
इसके चलते बुलाए अभ्यर्थियों के सापेक्ष 4085 अभ्यर्थी ही आए। इस दौरान करीब तीन सौ अभ्यर्थी ऐसे मिले जिनके अंगूठे के निशान नहीं मैच कर रहे थे। आसार है कि इन लोगों ने भर्ती के लिए फर्जीवाड़ा किया है। फिलहाल आरआरसी ने 18 जुलाई को रिजल्ट जारी करते हुए 3254 अभ्यर्थियों का चयन किया। इनको इलाहाबाद, झांसी और आगरा मंडल में तैनात किया जाएगा। तीनों मंडलों में तैनात होने वाले चयनितों की लिस्ट आरआरसी ने भेज दी है। वहीं से अगले हफ्ते तक नियुक्ति पत्र जारी किया जाएगा।


इलाहाबाद जोन में ग्रुप डी के लिए चयनित हुए 3254 अभ्यर्थी
ग्रुड डी के पदों की चयन प्रक्रिया डेढ़ साल में पूरी कर ली गई है। जल्द ही इनको नियुक्ति दी जाएगी। जितने पदों की भर्ती निकली थी, उसके सापेक्ष 1498 पद खाली रह गए हैं। पहली लिस्ट में चयनितों को नियुक्ति देने के बाद शेष पदों के लिए आगे की प्रक्रिया की जाएगी।
विवेक प्रकाश, चेयरमैन, रेलवे भर्ती प्रकोष्ठ
कुछ अभ्यर्थियों की चल रही जांच
डाक्यूमेंट वेरीफिकेशन के दौरान 831 ऐसे अभ्यर्थी मिले हैं, जिनके या तो प्रमाण पत्र में गड़बड़ी है या अंगूठे के निशान का मिलान नहीं हो रहा है। इसमें कुछ फर्जी हो सकते हैं और कुछ सही भी। इसलिए पहली लिस्ट में चयनितों को नियुक्ति देने के बाद फिर से बचे हुए अभ्यर्थियों को बुलाकर जांच की जाएगी।