Sunday, July 7, 2019

यूपी पुलिस सिपाही भर्ती ::: सेवा में आने से पहले 4 महिला सिपाही हुई बर्खास्त , प्रशिक्षण के दौरान अनुशासनहीनता पर हुई कार्रवाई , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

यूपी पुलिस सिपाही भर्ती ::: सेवा में आने से पहले 4 महिला सिपाही हुई बर्खास्त  , प्रशिक्षण के दौरान अनुशासनहीनता पर हुई कार्रवाई , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 



पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने शनिवार को अनुशासनहीनता के आरोप में चार महिला रिक्रूट आरक्षियों को नौकरी से निकाल दिया। श्री सिंह के इस फरमान से पुलिस महकमे में हड़कम्प मचा है। नौकरी से निकाली गयी इन आरक्षियों के नाम कुमारी दुग्रेश, कुमारी अनामिका सिंह, डौली कुमारी और कुमारी करिश्मा हैं। जनपद वाराणसी में यह रिक्रूट आरक्षी महिलाएं पुलिस लाइन्स वाराणसी के मुख्यद्वार के बाहर सड़क पर आकर धरने पर बैठ गयी थीं। प्रदेश पुलिस के डीजी ओपी सिंह ने इस प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए तत्काल जांच एवं सख्त विधिक कार्यवाही के निर्देश दिये थे। जांच समिति ने पाया कि चारो महिला रिक्रूट को नियुक्ति के पश्चात जनपद प्रयागराज से आधारभूत प्रशिक्षण आरटीसी जनपद वाराणसी भेजा गया था। जहां 3 जून से प्रशिक्षण प्राप्त कर रही थीं। जांच में पता चला कि सभी रिक्रूट महिलाएं आरक्षियों द्वारा प्रशिक्षण अवधि के दौरान मात्र 3-4 दिन के अन्दर ही अत्यंत साधारण समस्याओं व सुनी-सुनायी बातों, अफवाहों के कारण प्रशिक्षण के सामान्य नियमों का उल्लंघन करते हुए सड़क जाम करने जैसी अनुशासनहीन गतिविधियों को अंजाम दे चुकी थीं। इसके लिये चारों रिक्रूट्स महिला आरक्षियों को दोषी पाये जाने के फलस्वरूप इनके विरुद्ध पुलिस आरक्षी तथा मुख्य आरक्षी सेवा नियमावली एवं उत्तर प्रदेश पुलिस रेगुलेशन के नियम में निहित प्राविधानों के अनुसार सेवा समाप्त करने का कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। इस परिप्रेक्ष्य में चारों महिला रिक्रूट आरक्षियों द्वारा अपना स्पष्टीकरण कार्यालय को उपलब्ध कराया गया, लेकिन स्पष्टीकरण संतोषजनक न पाये जाने के कारण डीजीपी कार्यालय ने आज चारों महिलाओं को सेवा समाप्त किये जाने का आदेश दिया।