Wednesday, June 12, 2019

दूसरे बोर्ड में कम्पार्टमेंट तो यूपी बोर्ड में क्यों नहीं ,सीबीएसई व सीआईएससीई इंटर में देते हैं कम्पार्टमेंट की सुविधा ,यूपी बोर्ड में एक विषय में फेल परीक्षार्थियों के लिए नहीं प्रावधान , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

दूसरे बोर्ड में कम्पार्टमेंट तो यूपी बोर्ड में क्यों नहीं  ,सीबीएसई व सीआईएससीई इंटर में देते हैं कम्पार्टमेंट की सुविधा ,यूपी बोर्ड में एक विषय में फेल परीक्षार्थियों के लिए नहीं प्रावधान , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




सीआई एससीई ने इस साल से 10वीं और 12वीं कक्षाओं के लिए कम्पार्टमेंट की सुविधा शुरू कर दी है। सीबीएसई कई साल से छात्र-छात्राओं को यह सुविधा देता आ रहा है।.

इसी के साथ यह प्रश्न उठने लगा है कि यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट के छात्र-छात्राओं के लिए कम्पार्टमेंट का प्रावधान क्यों नहीं है। यूपी बोर्ड की कॉपियां किस लापरवाही से जांच जाती है यह किसी से छिपा नहीं है। फेल को पास और पास को फेल करने में शिक्षक कोई कसर नहीं छोड़ते।.

यूपी बोर्ड हाईस्कूल में तो इम्प्रूवमेंट और कम्पार्टमेंट की सुविधा देता है लेकिन इंटर में कोई प्रावधान नहीं है। ऐसे में इंटर में यदि कोई छात्र एक विषय में फेल होता है तो उसके पास अगले साल तक बोर्ड परीक्षा का इंतजार करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। माधव ज्ञान केंद्र इंटर कॉलेज नैनी के प्रधानाचार्य प्रदीप त्रिपाठी का कहना है कि बोर्ड परीक्षा की कॉपियों के मूल्यांकन में लापरवाही से इनकार नहीं किया जा सकता। इसलिए कम्पार्टमेंट की सुविधा देनी चाहिए। शिक्षक विधायक सुरेश कुमार त्रिपाठी ने कहा कि इस संबंध में सचिव यूपी बोर्ड और निदेशक माध्यमिक शिक्षा से मुलाकात कर वार्ता करेंगे। छात्रहित को देखते हुए यह सुविधा मिलनी चाहिए। .