Wednesday, April 17, 2019

UPSC :: देश की सबसे कठिन परीक्षा में 55 फीसदी अंक पर टॉपर , यूपीएससी की ओर से सभी सफल स्टूडेंट्स के अंक जारी किये गए , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

UPSC :: देश की सबसे कठिन परीक्षा में 55 फीसदी अंक पर टॉपर , यूपीएससी की ओर से सभी सफल स्टूडेंट्स के अंक जारी किये गए , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




देश की सबसे कठिन परीक्षा माने जाने वाली सिविल सर्विस परीक्षा (यूपीएससी) में कनिष्क कटारिया महज 55 फीसदी अंक लाकर पूरे देश में टॉप कर गए। यूपीएससी की ओर से सभी सफल स्टूडेंट्स के अंक जारी कर दिए गए हैं। हालांकि यूपीएससी ने खुद से इस बात की जानकारी नहीं दी है जिससे पता चले कि इंजीनियर, मेडिकल और दूसरी स्ट्रीम के कितने स्टूडेंट्स ने परीक्षा में सफलता पाई। सूत्रों के अनुसार इस मुद्दे पर पिछले कुछ सालों से हो रहे तमाम विरोधों के कारण इसे इस बार भी जारी नहीं किया गया है। किन विषयों के साथ उम्मीदवार परीक्षा में सफल हुए, इसकी जानकारी दी गई है। भले ही शीर्ष स्थानों में आने में आर्ट्स स्टूडेंट सफल नहीं रहे लेकिन पिछली बार के मुकाबले इनकी सफलता दर अधिक रही। इस बार कुल 759 उम्मीदवारों का चयन हुआ। 

क्या है अंकों का ट्रेंड

सिविल सर्विस परीक्षा में टॉप करने वाले कनिष्क कटारिया ने मेंस में 942 अंक हासिल किए जबकि इंटरव्यू में उन्हें 179 अंक मिले। इस तरह कुल मिलाकर उन्हें 1121 अंक मिले। कनिष्क कटारिया एससी कैटेगरी से आते हैं। दूसरे नंबर पर रहे अक्षत जैन को 1080 अंक मिले जबकि जबकि तीसरे नंबर पर रहे जुनैद अहमद को 1077 अंक मिले। सचिन गुप्ता को अनु से कम 1122 नंबर मिले। पिछले साल के टॉपर डुरीशेट्टी अनुदीप को कुल 2025 में से 1126 अंक मिले थे। 

असफल स्टूडेंट्स के 

अंक भी आएंगे:

परीक्षा में असफल उम्मीदवारों के भी अंक अगले हफ्ते जारी हो सकते हैं। मालूम हो कि इस नए सिस्टम को पिछले दो सालों से शुरू किया गया है। इसके तहत वे स्टूडेंट भी अपने अंक पब्लिक डोमेन में डाल सकते हैं जो सफल नहीं हुए हैं ताकि दूसरी प्राइवेट कंपनियां इन अंकों के आधार पर स्टूडेंट्स को अपने यहां नौकरी के लिए शार्ट लिस्ट कर सकें। सूत्रों के अनुसार पहले साल के मुकाबले इस साल लगभग पच्चीस हजार से अधिक स्टूडेंट्स ने इस विकल्प को चुना है। यूपीएससी ने इसे वैकल्पिक रखा है। स्टूडेंट्स को मुख्य परीक्षा के लिए फार्म भरते समय ही बताना होता है कि वे अपने अंक पब्लिक डोमेन में डालना चाहते हैं।