Monday, March 11, 2019

रोजगार आम चुनाव में बनेगा अहम मुद्दा , लोगो ने रखे अपने विचार , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

रोजगार आम चुनाव में बनेगा अहम मुद्दा , लोगो ने रखे अपने विचार , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




आम चुनाव की मतदान तिथियां घोषित होने के साथ ही शहर में चुनावी बहस तेज हो गई है। जहां बहुतों की चर्चा का विषय नई सरकार किसकी बनेगी है, वहीं तमाम लोगों ने नई सरकार से कई तरह की उम्मीदे भी लगा रखी हैं। इस चुनाव में लोग किस मुद्दे पर करेंगे वोट, यह जानने के लिए आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान ने रविवार शाम लोगों की प्रतिक्रिया ली। इस दौरान बेरोजगारी प्रमुख मुद्दे के रूप में सामने आया। .

एलाआईसी एजेंट अखिलेश कुमार वर्मा का कहना है कि बेरोजगारों की संख्या लगातार बढ़ रही है। काम ना मिलने की स्थिति में युवक हताश हो रहे हैं और गलत रास्तों पर जा रहे है। व्यापारी दिनेश कुमार ने कहा कि सभी नेता एक जैसे हैं। सिर्फ चुनाव के पहले वादा करते हैं और बाद में कोई झांकने नहीं आता। सभी भ्रष्ट हैं, कोई दूध का धुला नहीं है। एडवोकेट मोहम्मद यासीन ने कहा कि रोजगार के अवसर बढ़ने चाहिए। समाज में हर वर्ग अपने बच्चों को पढ़ा रहा है। अगर रोजगार नहीं मिला तो देश कभी प्रगति नहीं कर पाएगा। निजी कंपनी में कार्यरत अशफाक अहमद ने कहा कि अच्छी पढ़ाई के बाद नौकरी न मिलने पर एक नौजवान परिवार पर बोझ बना जाता है। घर-परिवार और समाज में भी उसका सम्मान घटने लगता है। ऐसे में उम्मीद है कि नई सरकार रोजगार के अवसर बढ़ाएगी।.

सरकारी कर्मचारी राकेश कुमार का कहना है कि चुनावी वादों का पूरा होना जरूरी है। सरकार को यह देखना चाहिए कि जनता से जो वायदे किए थे उनमें से कितने पूरे हुए। पुरानी पेंशन बहाली का वादा अभी भी पूरा नहीं हुआ। सरकारी कर्मचारी आनंद दुबे का मानना है कि जो नौजवान पहली बार मतदान करेंगे वह आने वाले समय में रोजगार की उपलब्धता को देखेंगे। देश को विकास के पथ पर ले जाना है तो नई सरकार युवाओं को रोजगार दे। .

व्यवसायी राजेश कुमार ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार और रोजगार के नए अवसर बढ़ने चाहिए। साथ ही किसानों और गरीबों को बुनियादी सुविधाएं मिलनी चाहिए। व्यवसायी सिद्धार्थ का कहना है कई अच्छे कार्य हुए हैं लेकिन बेरोजगारी से युवा गलत रास्तों को अपना रहे हैं। इसमें सुधार की जरूरत है। शिक्षक शारदा प्रसाद सिंह का कहना है कि नए सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन का लाभ मिलना चाहिए। नई सरकार से यही उम्मीद है। छात्र जितेंद्र त्रिपाठी ने भी रोजगार का मुद्दा ही प्रमुख बताया।.


Click Here & Download Govt Jobs UP Official Android App