Wednesday, February 6, 2019

यूपी में पुरानी पेंशन बहाली को लेकर राज्य कर्मचारियों की महाहड़ताल, सरकारी दफ्तरों में ताले

यूपी में पुरानी पेंशन बहाली को लेकर राज्य कर्मचारियों की महाहड़ताल, सरकारी दफ्तरों में ताले



पुरानी पेंशन बहाली को लेकर यूपी में राज्य कर्मचारी संगठन की महाहड़ताल आज से शुरू गई है। ​​​​​कर्मचारी हड़ताल के पहले दिन प्रदेश के समस्त RTO कार्यालय सहित कई सरकारी दफ्तरों में ताला लगा है।

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर यूपी में राज्य कर्मचारी संगठन की महाहड़ताल आज से शुरू गई है। ​​​​​कर्मचारी हड़ताल के पहले दिन कई सरकारी दफ्तरों में ताला लगा है। काम बंद कर कर्मचारी और अधिकारी प्रदर्शन कर रहे हैं। हड़ताल की शुरुआत प्रयागराज के गवर्मेंट प्रेस से हो गई है। कर्मचारियों ने यहां सुबह छह बजे काम बंद कर प्रदर्शन किया। सरकार द्वारा एस्मा लगाने के बावजूद इस हड़ताल में बड़ी संख्या में कर्मचारी शामिल होने का दावा है। 



धरना-प्रदर्शन और बाइर रैली

हड़ताल के पहले दिन राजभवन के सामने लोक निर्माण विभाग मुख्यालय पर सभी विभागों के कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी व केंद्रीय कर्मचारी एकत्र होकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। जिले-जिले धरने और सभाएं शुरू हो गईं हैं। सभी जिलों में बाइक सवारों की दो टोलियां जनजागरण करने के लिए सड़कों पर निकल पड़ी हैं। कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा भी हड़ताल में शामिल हैं। 


आखिरी दिन आवश्यक सेवाएं भी ठप होंगी

उत्तर प्रदेश में कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच की ओर से हड़ताल में 150 संगठनों के 20 लाख कर्मचारियों व शिक्षकों के शामिल होने का दावा है। मंच के संयोजक हरिकिशोर तिवारी ने बताया कि 12 फरवरी तक चलने वाली सात दिन की हड़ताल के शुरुआती दिनों में बिजली व स्वास्थ्य सेवाओं को अलग रखा गया है लेकिन आखिरी दिनों में सभी आवश्यक सेवाएं भी ठप की जा सकती है। 


सरकार ने लागू किया एस्मा 

इससे पहले मंगलवार को प्रदेश के सभी जिलों में एक ही मिशन-पुरानी पेंशन की तख्तियां लेकर बाइक रैली निकाली और दफ्तरों का भ्रमण कर कर्मचारियों से हड़ताल में शामिल होने का आह्वान किया गया। हड़ताल को लेकर शासन ने एस्मा लगाने के साथ ही कार्यवाही के निर्देश भी जारी कर दिए हैं कि किस स्थिति में कैसा कदम उठाया जाना चाहिए। अधिकारियों ने हड़ताल का असर नहीं पड़ने देने की सभी तैयारियां कर रखी हैं।