Monday, February 25, 2019

हाईकोर्ट के एआरओ की रविवार को आयोजित परीक्षा का प्रश्न-पत्र लीक होने की सम्भावना , प्रश्नपत्रो के बंडल की सील कक्ष में पहुंचने से पहले ही खुली मिली , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

हाईकोर्ट के एआरओ की रविवार को आयोजित परीक्षा का प्रश्न-पत्र लीक होने की सम्भावना , प्रश्नपत्रो के बंडल की सील कक्ष में  पहुंचने से पहले ही खुली मिली , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




हाईकोर्ट के सहायक समीक्षा अधिकारी (एआरओ) की परीक्षा में रविवार को मेरठ के एक परीक्षा केंद्र पर परीक्षार्थियों ने हंगामा कर दिया। थाना टीपीनगर क्षेत्र के रोहटा रोड स्थित कमलावती इंटर कॉलेज में आयोजित परीक्षा की पहली पाली के दौरान प्रश्नपत्रों के बंडल की सील कक्ष में पहुंचे से पूर्व ही खोलने का आरोप लगाकर परीक्षार्थी कॉलेज के अंदर ही धरने पर बैठ गए। एक घंटे तक कॉलेज में जमकर हंगामा चला। पेपर लीक होने की सूचना पर जिलाधिकारी समेत पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। एक घंटा देरी से परीक्षा शुरू हुई। परीक्षार्थियों के हंगामे के कारण परीक्षा केंद्र पर पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों के साथ कई थानों की पुलिस मौजूद रही। .

मेरठ के कुल 12 केंद्रों पर रविवार को हाईकोर्ट के एआरओ की परीक्षा संपन्न कराई गई। थाना टीपीनगर क्षेत्र के रोहटा रोड स्थित कमलावती इंटर कॉलेज में परीक्षा की पहली पाली में कुल 506 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। यहां परीक्षा शुरू होने के दौरान पेपर लीक की सूचना फैल गई। आननफानन में जिलाधिकारी अनिल धींगरा, एसपी सिटी समेत भारी संख्या में पुलिस फोर्स कमलावती इंटर कॉलेज पहुंच गए। कॉलेज में गेट के अंदर ही परीक्षार्थी हंगामा कर रहे थे। परीक्षार्थियों का आरोप है कि एक कक्ष में प्रश्नपत्र के बंडल की सील पहले ही खोल दी गई जबकि प्रश्नपत्र के बंडल की सील कक्ष में पहुंचने के बाद परीक्षार्थियों के सामने खोलने का नियम है। संबंधित कक्ष के परीक्षार्थी हंगामा करते हुए कक्ष से बाहर आ गए। दूसरे कक्षों से भी परीक्षार्थी बाहर आकर हंगामा करने लगे और प्रश्नपत्र लीक कराने का आरोप लगाकर धरने पर बैठ गए। .

परीक्षार्थियों का आरोप है कि गलती छिपाने के लिए अधिकारियों ने फिर सभी बंडलों की सील खोल दी, ताकि यह कह सकें कि सभी बंडलों की सील पहले ही खोली गई थी। एक घंटे तक परीक्षार्थी धरने पर बैठे रहे। इसके बाद जिलधिकारी ने 11 बजे परीक्षा शुरू कराई। चेतावनी दी कि जो परीक्षार्थी परीक्षा में नहीं बैठेंगे, उन्हें अनुपस्थित माना जाएगा। परीक्षा छूटने के डर से सभी परीक्षार्थी कक्षों में पहुंचे और परीक्षा शुरू कराई गई। हंगामे के कारण कमलावती इंटर कॉलेज में साढ़े 12 बजे के स्थान पर 1:30 बजे पहली पाली की परीक्षा समाप्त हुई। परीक्षा के बाद हंगामे की आशंका के चलते *परीक्षा केंद्र के बाहर काफी फोर्स तैनात कर दी गई। परीक्षा के बाद फोर्स ने परीक्षार्थियों को केंद्र के बाहर एकत्रित नहीं होने दिया। .

हंगामे ने किया ध्यान भंग: परीक्षा में शामिल होने पहुंचे सहारनपुर निवासी दीपक पुंडीर और मुजफ्फरनगर निवासी चिराग ने बताया कि ढाई घंटे में कुल 200 वैकल्पिक प्रश्न हल करने थे। 50 प्रश्न अंग्रेजी और बाकी रीजनिंग, हिंदी और सामान्य ज्ञान से संबंधित रहे। *वहीं इस मामले में डीएम अनिल ढींगरा ने बताया कि हाईकोर्ट के एआरओ की परीक्षा में कोई पेपर लीक नहीं हुआ है। वीडियो रिकार्डिंग देखी गई है। केवल मिस कम्यूनिकेशन हो गया था। .

मेरठ। हाईकोर्ट के एआरओ की रविवार को आयोजित परीक्षा का प्रश्न-पत्र लीक होने की पुष्टि तो नहीं हो सकी, लेकिन करीब सवा घंटे तक प्रश्नपत्रों के खुले बंडलों को लेकर परीक्षार्थियों ने सवाल उठाए हैं। परीक्षार्थियों ने कहा कि परीक्षा केंद्र में पुलिस और प्रशासन के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे। सभी के पास स्मार्ट फोन था। सवा घंटे तक प्रश्न-पत्र के खुले बंडल अधिकारियों के हाथों में रहे। ऐसे में परीक्षा के नियमानुसार संपन्न होने पर प्रश्न चिन्ह लग गया है।.


रविवार को प्रदेशभर में हाईकोर्ट के सहायक समीक्षा अधिकारी की परीक्षा संपन्न कराई गई। परीक्षा समाप्त होने के बाद मेरठ, सहारनपुर, बड़ौत और मुजफ्फरनगर के परीक्षार्थियों ने कहा कि परीक्षा कक्ष में पहुंचने से पहले ही प्रश्नपत्र के बंडल की सील टूटी मिली। जिससे प्रश्न-पत्र के लीक होने की संभावना है। .