Tuesday, January 15, 2019

बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा कराने के लिए रुहेलखंड विश्वविद्यालय को मिली जिम्मेदारी , पिछले चार साल से लखनऊ विश्वविद्यालय करा रहा है बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा कराने के लिए रुहेलखंड विश्वविद्यालय को मिली जिम्मेदारी , पिछले चार साल से लखनऊ विश्वविद्यालय करा रहा है बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा , क्लिक करे  और पढ़े पूरी खबर 




देशभर में बीएड अब चार साल का होने के बाद संयुक्त प्रवेश परीक्षा की जिम्मेदारी पहली बार रुहेलखंड विश्वविद्यालय को मिल गई है। सोमवार को संयुक्त प्रवेश परीक्षा कराने के लिए रुहेलखंड विश्वविद्यालय को शासन से चिठ्ठी भी मिल गई। अब संयुक्त प्रवेश परीक्षा को लेकर रुहेलखंड विश्वविद्यालय के कुलपति अगले कुछ दिनों में बैठककर पूरी तैयारी का खाका खींचेंगे और समितियों के गठन के साथ ही परीक्षा को लेकर कार्यक्रम भी तैयार किया जाएगा। इस साल से बीएड चार साल को हो गया है और अर्हता इंटर है, ऐसे में विवि अब प्रश्नपत्र भी तैयार करेगा। .
नेशनल काउंसिल फॉर टीचर्स एजुकेशन (एनसीटीई) ने दो वर्षीय बीएड खत्म कर चार वर्षीय चार वर्षीय एकीकृत अध्यापक शिक्षा कार्यक्रम (आईटीईपी) पर मुहर लगा दी थी। इस चार वर्षीय कोर्स के लिए कॉलेजों से आवेदन मांग लिए थे। ऐसे में अब इस नए कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा को लेकर रुहेलखंड विश्वविद्यालय ने प्रदेश सरकार से अनुमति मांगी थी। कहा था कि चार साल से लखनऊ विवि बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा करा रहा है। रुहेलखंड विवि को 2011 में बीएड की प्रवेश परीक्षा का अनुभव भी है। इस पर मंथन के बाद प्रदेश सरकार ने रुहेलखंड विवि को मंजूरी दे दी। इसकी पुष्टि भी कुलपति ने कर दी। .

नौकरियों से सम्बन्धित सही, सटीक व विश्वशनीय जानकारी सबसे पहले अपने मोबाइल पर पाने के लिए -