Friday, January 4, 2019

यूपी पुलिस सिपाही भर्ती: 43वीं बार भी किस्मत दे गई दगा, हमेशा के लिए टूट गया वर्दी का सपना , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

यूपी पुलिस सिपाही भर्ती: 43वीं बार भी किस्मत दे गई दगा, हमेशा के लिए टूट गया वर्दी का सपना , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




सहानपुर निवासी अभ्यर्थी दौड़ में एक सेकेंड पीछे रहकर भर्ती से बाहर होने पर अपने आंसू नहीं थाम सका। युवक ने कहा कि उसने कैरियर में 43 वीं बार भर्ती के लिए दौड़ लगाई थी, लेकिन किस्मत दगा दे गई। अब तो उम्र भी पूरी हो गई है। यह युवक सेना के अलावा महाराष्ट्र राजस्थान, यूपी, छत्तीसगढ़, हरियाणा, पंजाब पुलिस के अलावा आईटीबी और अन्य राज्यों में भी भर्ती में दौड़ चुका है। यूपी पुलिस सिपाही भर्ती 2018 की दूसरे चरण की दौड़ गुरुवार को मेरठ छठीं वाहिनी पीएसी के मैदान पर पूरी हो गई। मेरठ व सहारनपुर मंडल के अलावा अन्य जिलों के अभ्यर्थियों की दूसरे चरण की दौड़ 26 दिसंबर से शुरू हुई थी। बृहस्पतिवार को दौड़ में 1204 अभ्यर्थी दौड़े, जिनमें से 347 अभ्यर्थी दौड़ पूरी नहीं कर सके, और बाहर हो गये, इन्हीं अभ्यर्थियों में 108 महिला अभ्यर्थियों ने भी भाग लिया, जिनमें से 54 अभ्यर्थी ही दौड़ पूरी कर सकीं। दौड़ में नोडल अधिकारी सीओ रामअर्ज का कहना है कि  दौड़ में 25 प्रतिशत पुरूष अभ्यर्थी बाहर हुए हैं, जबकि दौड़ में 50 प्रतिशत महिला अभ्यर्थी भी बाहर हो गईं।
दौड़ लगाते समय बृहस्पतिवार को पांच महिला अभ्यर्थी चक्कर खाकर गिर गईं। एक अभ्यर्थी को एंबुलेंस से अस्पताल में भर्ती कराया। महिलाओं के लिए 14 मिनट में 2400 मीटर की दौड़ पूरी करना था। वहीं पुरूष अभ्यर्थियों के लिए 24 मिनट में 4800 मीटर का समय था। दौड़ में अधिकांश महिला अभ्यर्थी जहां 30 सेकेंड से एक मिनट तक पीछे रह गये। वहीं पुरूष अभ्यर्थी भी आखिरी के चंद सैकड़ों में बाहर हुए।

छह और सात को भी दौड़
नोडल अधिकारी/ एसपी ट्रैफिक संजीव बाजपेयी का कहना है कि जिनके एडमिट कार्ड डाउनलोड नहीं हुए है। चार जनवरी से डाउनलोड कर सकते हैं। अभ्यर्थियों की दौड़ छह व सात जनवरी को छठी वाहिनी पीएसी में सुबह छह बजे से होगी।


नौकरियों से सम्बन्धित सही, सटीक व विश्वशनीय जानकारी सबसे पहले अपने मोबाइल पर पाने के लिए -