Friday, November 16, 2018

पशुधन प्रसार अधिकारी भर्ती घोटाला : भर्ती घोटाले में पूर्व निदेशक समेत अन्य पर कार्रवाई तय , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

पशुधन प्रसार अधिकारी भर्ती घोटाला : भर्ती घोटाले में पूर्व  निदेशक समेत अन्य पर कार्रवाई तय , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 



सपा सरकार के कार्यकाल में 17 मंडलों में 1,198 पशुधन प्रसार अफसरों की भर्ती में हुई धांधली में तत्कालीन पशुधन निदेशक रुद्र प्रताप व 20 से ज्यादा अफसरों को एसआईटी ने जांच में दोषी पाया है। इनमें रायबरेली के एक इंस्टीट्यूट के निदेशक व असिस्टेंट डायरेक्टर (एडी) स्तर के कई अधिकारी भी शामिल हैं। रिपोर्ट में अफसरों के खिलाफ एफआईआर व विभागीय कार्रवाई की सिफारिश की गई है। सीएम के अनुमोदन के बाद अफसरों पर एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी। हाई कोर्ट के निर्देश पर शुरू हुई जांच की रिपोर्ट एसआईटी ने शासन को भेज दी है।

बिना हस्ताक्षर के जारी कर दिया रिजल्ट :

एसआईटी जांच में सामने आया है कि पशुधन निदेशालय ने लिखित परीक्षा की कॉपियां जंचवाने में भी अनियमितता की। रायबरेली के फिरोज गांधी इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी को कॉपियां जांचने की जिम्मेदारी सौंपी थी। यहां के निदेशक डॉ. आरपी शर्मा ने कॉपियां जांचने के बाद बिना हस्ताक्षर और पदनाम लिखे ही रिजल्ट जारी कर दिया, जो कि नियमों के खिलाफ था। इससे पहले पशुधन निदेशक रुद्र प्रताप ने कॉपियां जांचने का जिम्मा शकुंतला विवि को दिया था, जो कि मानकों पर खरा नहीं था और ना ही वहां संसाधन थे। शासन के हस्तक्षेप के बाद यह जिम्मेदारी फिरोज गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी को सौंपी गई। एसआईटी रिजल्ट में गड़बड़ियों के भी कई अहम साक्ष्य मिले हैं।


WhatsApp Group 13

नौकरियों से सम्बन्धित सही, सटीक व विश्वशनीय जानकारी सबसे पहले अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें हमारी आधिकारिक एप    
प्ले स्टोर से भी Govtjobtsup सर्च करके कर सकते हैं डाउनलोड