Tuesday, October 2, 2018

जल निगम भर्ती घोटाला :: विशेष अनुसंधान दल (एसआइटी) ने अपटेक के मुंबई स्थित सर्वर से डाटा कब्जे में लिया , डाटा से जांच एजेंसी के हाथ कई अहम साक्ष्य लगने की उम्मीद , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

जल निगम भर्ती घोटाला :: विशेष अनुसंधान दल (एसआइटी) ने अपटेक के मुंबई स्थित सर्वर से डाटा कब्जे में लिया , डाटा से जांच एजेंसी के हाथ कई अहम साक्ष्य लगने की उम्मीद , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




 जलनिगम भर्ती घोटाले के मामले में विशेष अनुसंधान दल (एसआइटी) को बड़ी सफलता मिली है। एसआइटी ने जलनिगम भर्ती परीक्षा कराने वाली संस्था अपटेक के मुंबई स्थित सर्वर से डाटा अपने कब्जे में लिया है। डाटा को जांच के लिए फोरेंसिक साइंस लैब भेजे जाने की तैयारी है। माना जा रहा है कि डाटा से जांच एजेंसी के हाथ कई अहम साक्ष्य लग सकते हैं।

जलनिगम भर्ती घोटाले के मामले में शासन के आदेश पर एसआइटी ने अप्रैल माह में सपा सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां सहित अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी व भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम सहित अन्य धाराओं में एफआइआर दर्ज की है। एफआइआर में जलनिगम के तत्कालीन एमडी पीके आसूदानी, नगर विकास विभाग के पूर्व सचिव एसपी सिंह (अब सेवानिवृत्त), पूर्व मंत्री आजम के तत्कालीन ओएसडी सैय्यद आफाक अहमद व तत्कालीन चीफ इंजीनियर अनिल कुमार खरे को भी नामजद हैं।

इससे पूर्व एसआइटी ने 29 मार्च को शासन को अपनी जांच रिपोर्ट सौंपी थी। उल्लेखनीय है कि जलनिगम में सपा शासनकाल में 1300 पदों पर हुई भर्तियों में अनियमितता के आरोप लगे थे। भाजपा सरकार ने पूरे मामले की जांच का आदेश दिया था। एसआइटी अधिकारियों ने बताया कि भर्ती परीक्षा अपटेक ने संचालित कराई थी। एसआइटी ने पूर्व में अपटेक के अधिकारियों से भी पूछताछ की थी। तब परीक्षा से जुड़ा डाटा नहीं मिल सका था। अब एसआइटी की टीम ने मुंबई स्थित कंपनी के सर्वर से चार हार्ड डिस्क में डाटा लिया है जिसकी मदद से रिजल्ट व अन्य तथ्यों की जांच की जाएगी।

नौकरियों से सम्बन्धित सही, सटीक व विश्वशनीय जानकारी सबसे पहले अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें हमारी आधिकारिक एप    
प्ले स्टोर से भी Govtjobtsup सर्च करके कर सकते हैं डाउनलोड